सरकार के निर्देशों के अनुसार वे 15 अप्रैल तक नहीं आ सकते।’

कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को रोकने के लिए सरकार की वीजा पाबंदि

‘आईपीएल में खेलने वाले विदेशी खिलाड़ी बिजेनस वीजा की श्रेणी में आते हैं।

आईपीएल के शुरू होने में सिर्फ कुछ ही दिन बाकी हैं लेकिन उससे पहले ही टूर्नामेंट और भाग ले रही टीमों को बड़ा झटका लगा है। भारत सरकार द्वारा जारी किए गए नए वीजा नियम के बाद अब भारत की इस चर्चित टी-20 लीग में विदेशी खिलाड़ियों के भाग लेने पर संशय बन गया है। कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को रोकने के लिए सरकार की वीजा पाबंदियों के कारण कोई भी विदेशी खिलाड़ी इस साल इंडियन प्रीमियर लीग में खेलने के लिए 15 अप्रैल तक उपलब्ध नहीं होगा। दरअसल देश में कोरोना वायरस के बढ़ते नए मामलों को देखते हुए सरकार ने आदेश पारित किया है जिसमें सभी मौजूदा विदेशी वीजा 15 अप्रैल तक निलंबित कर दिए हैं।

इस मामले में बीसीसीआई के एक सूत्र ने पीटीआई से बातचीत में बताया, ‘आईपीएल में खेलने वाले विदेशी खिलाड़ी बिजेनस वीजा की श्रेणी में आते हैं। सरकार के निर्देशों के अनुसार वे 15 अप्रैल तक नहीं आ सकते।’