पूर्व मुख्‍यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी किसानों के साथ षड्यंत्र कर रही है। अखिलेश यादव ने ट्विटर पर गणतंत्र दिवस महाघोषणा पत्र भी जारी किया। इसमें उन्होंने आरोप लगाया है, ”आज हमारे देश में संविधान, गणतंत्र-लोकतंत्र, आजादी, सब खतरे में है।सपा अध्‍यक्ष ने सोमवार को ट्वीट किया कि गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड रोकने के लिए ट्रैक्टरों को पंपों पर डीजल नहीं दिए जाने के निर्देश की खबर मिली है। भाजपा, किसान के खिलाफ निम्न कोटि का षड्यंत्र कर रही है। इसके अलावा, यादव ने टि़वटर पर गणतंत्र दिवस महाघोषणा पत्र को भी साझा किया है। इसमें अखिलेश ने कहा ह‍ै कि आज हमारे देश में संविधान, गणतंत्र-लोकतंत्र, आजादी सब खतरे में है, इसलिए इस गणतंत्र दिवस पर सपा नयी चुनौतियों का सामना करने के लिए, नये संकल्‍प लेकर, एक नयी घोषणा करने जा रही है। नयी हवा है, नयी सपा है, बड़ों का हाथ, युवा का साथ।

अखिलेश ने कहा कि आइए घृणा और अवश्विास के स्‍थान पर मिल जुलकर परस्‍पर प्रेम और आपसी विश्‍वास से समाज, प्रदेश और देश को मजबूत करें। पूर्व मुख्यमंत्री ने इस पत्र में आगे लिखा है कि हमारा प्रेरणा वाक्‍य है विकास सच्‍चा और काम अच्‍छा एवं शांति और सौहार्द हमारा मूलमंत्र है। हम सब जानते हैं कि एकता के बिना शांति नहीं होती और शांति के बिना विकास नहीं होता, इसलिए आइए हम सब हर बह‍कावे-भटकावे से बचकर एकजुट होकर आगे बढ़ें और अमन-चैन के लिए हर संभव कोशिश करें। सपा की जनहितकारी नीतियों से जुड़ने की अपील के साथ यादव ने कहा कि एक नये उत्‍तर प्रदेश के निर्माण के लिए नया संकल्‍प धारण कीजिए।