उत्तर पदेश(न्युज एजेंसी) गोरखपुर (28 July 2020) : वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार गुप्ता ने बताया कि मुठभेड़ मध्यरात्रि के बाद मंगलवार दो बजे के लगभग हुई। हिस्ट्रीशीटर अपराधी का नाम राधे यादव है और वह जिले के दस शीर्ष अपराधियों की सूची में शामिल है। उस पर 25 हजार रूपये का इनाम था।

Dr Sunil Gupta पुलिस अधीक्षक

बदमाश राधे यादव की घेराबंदी की गई तो उसने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी पुलिस ने जवाबी फायरिंग की जिसमें एक गोली राधे यादव के पैर में लगी

गोरखपुर पुलिस की टॉप टेन लिस्‍ट में शामिल कुख्‍यात अपराधी राधे यादव पुलिस एनकाउंटर में घायल हो गया है। इस दौरान एक इंस्‍पेक्‍टर और दो कांस्‍टेबल भी जख्‍मी हुए हैं।पुलिस के मुताबिक बदमाश राधे यादव की घेराबंदी की गई तो उसने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस पर फायरिंग करते हुए राधे यादव भागने लगा। इस दौरान बांसगांव के एक इंस्‍पेक्टर और दो कांस्‍टेबल घायल हो गए। पुलिस ने जवाबी फायरिंग की जिसमें एक गोली राधे यादव के पैर में लगी। इसके बाद पुलिस ने उसे पकड़ लिया। राधे यादव ने बताया कि उसके साथ आजमगढ़ का रहने वाला रामजीत यादव भी था जो मुठभेढ़ के दौरान फरार हो गया। राधे यादव और एनकाउंटर में घायल पुलिसकर्मियों का जिला अस्‍पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस राधे के साथी रामजीत को पकड़ने के लिए लगातार दबिश दे रही है। 

पुलिस ने  राधे यादव के पास से 315 बोर का एक तमंचा, तीन कारतूस के खोखे और चार जिंदा कारतूस बरामद किए

News Photo

पुलिस के मुताबिक बांसगांव के एसओ जगत नारायण सिंह को सूचना मिली थी कि ढका गांव का रहने वाला हिस्ट्रीशीटर राधेश्याम यादव उर्फ ​​राधे आजमगढ़ के रहने वाले बदमाश रामजीत यादव के साथ बेलीपार की ओर जा रहा है। रात एक बजे के करीब पुलिस ने धोबहा के पास दोनों को घेर लिया। पुलिस को देखते ही राधे यादव और रामजीत ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी फायरिंग में राधे यादव के दाहिने पैर में गोली लगी। इसके बाद पुलिस ने उसे पकड़ लिया। रामजीत यादव किसी तरह मौके से भागने में कामयाब रहा। एनकाउंटर में इंस्‍पेक्‍टर जगत नारायण सिंह, कांस्‍टेबल सुनील यादव और सद्दाम भी घायल हुए हैं। पुलिस ने  राधे यादव के पास से 315 बोर का एक तमंचा, तीन कारतूस के खोखे और चार जिंदा कारतूस बरामद किए हैं।

25 हजार का था इनाम

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार गुप्ता ने बताया कि मुठभेड़ मध्यरात्रि के बाद मंगलवार दो बजे के लगभग हुई। हिस्ट्रीशीटर अपराधी का नाम राधे यादव है और वह जिले के दस शीर्ष अपराधियों की सूची में शामिल है। उस पर 25 हजार रूपये का इनाम था।

टॉप 10 बदमाशों की सूची में शामिल

गुप्ता ने बताया कि यादव के खिलाफ विभिन्न थानों में 34 आपराधिक मामले दर्ज हैं। उसके कब्जे से एक पिस्टल और कारतूस बरामद हुए हैं। उसके दो साथी मौके से भागने में सफल रहे। उन्होंने बताया कि मुठभेड के दौरान बांसगांव थाना प्रभारी जगत नारायण सिंह और दो कांस्टेबल भी घायल हो गये। जिले के शीर्ष 10 बदमाशों की सूची में उसका नाम है।